स्तर की परिभाषा क्या है level in hindi definition meaning स्तर किसे कहते हैं ?

प्रश्न : स्तर को परिभाषित कीजिये ?

उत्तर : हिंदी में स्तर (level) की परिभाषा निम्नलिखित है –

भाषा-संरचना का एक आधारभूत सिद्धांत जिसके अनुसार भाषा का विश्लेषण भिन्न-भिन्न प्रकार से किया जाता है। सबसे सामान्य विश्लेषण के रूप में भाषा के मुख्यतः तीन स्तर माने जाते हैं – स्वनिमिक, व्याकरिणक तथा आर्थी। स्वनिक तथा अर्थविज्ञान से संबंधित ‘आर्थी‘ स्तर से शब्द-समूह का भेद किया जाता है। व्याकरण में ‘रूपविज्ञान‘ तथा ‘वाक्यविन्यास‘ दो स्वतंत्र स्तर माने जाते हैं (इनके साथ प्रैगमैटिक्स और रूपस्वनिमिक के स्तर भी ग्राह्य हैं) । व्याकरण के सभी प्रारूपों में स्तर की संकल्पना मान्य है। ब्लूमफील्ड के विश्लेषण में ‘निम्न‘ और ‘उच्च‘ स्तर का वर्णन है।
भाषा-विश्लेषण में स्तरों को मिलाना वर्जित है। हेलिडे के भाषा-विज्ञान में स्वनिमिकी को स्वनिक/लेखिक सत्व तथा व्याकरणिक/शाब्दिक रूपों के बीच का एक अंतर-स्तर माना जाता है। प्रजनक भाषाविज्ञान में स्तर से आशय है – वाक्य की व्युत्पत्ति में विभिन्न अभिव्यक्तियाँ (जैसे – बाह्य तथा आंतरिक – दो अभिव्यक्ति स्तर हैं) । इसी प्रकार व्याकरण की इकाइयों में रूपिम, शब्द, पदबंध, उपवाक्य, वाक्य विभिन्न स्तर/श्रेणियां हैं । स्वनिकी तथा स्वनिमिकी में उक्ति/अक्षर की सुर/प्रबलता को मापने के लिए इस संकल्पना का प्रयोग होता है । समाजभाषाविज्ञान तथा शैलीविज्ञान में स्तर से आशय है – सामाजिक स्थिति में उक्ति की अनुरूपता ।
भाषाविज्ञान, विशेषकर व्याकरण के मूल्यांकन के लिए स्तर की संकल्पना का प्रयोग होता है । जैसे – स्तर की अवधारण में ‘पर्याप्ति‘ का प्रयोग।

question : what is level in hindi define the term ?

answer : level की हिंदी में डेफिनिशन अर्थात स्तर की परिभाषा ऊपर देखिये –