निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिए: 1. राममोहन की 1833 में मृत्यु के उपरान्त देवेन्द्रनाथ टैगोर ब्रह्म समाज के नेता बने। 2. देवेन्द्रनाथ ने तत्त्वबोधिनी सभा, जो प्रगतिशील लोकमत तथा धार्मिक विचारों की अभिव्यक्ति के लिए एक मंच थी, स्थापित कर राममोहन के विचारों को लोकप्रिय बनाने का प्रयास किया। उपर्युक्त कथनों में से कौन सा/से सही है/हैं? का सही उत्तर क्या है ?

निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिए: 1. राममोहन की 1833 में मृत्यु के उपरान्त देवेन्द्रनाथ टैगोर ब्रह्म समाज के नेता बने। 2. देवेन्द्रनाथ ने तत्त्वबोधिनी सभा, जो प्रगतिशील लोकमत तथा धार्मिक विचारों की अभिव्यक्ति के लिए एक मंच थी, स्थापित कर राममोहन के विचारों को लोकप्रिय बनाने का प्रयास किया। उपर्युक्त कथनों में से कौन सा/से सही है/हैं? का सही उत्तर क्या है ?

सब्सक्राइब करे youtube चैनल

प्रश्न : निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिए:
1. राममोहन की 1833 में मृत्यु के उपरान्त देवेन्द्रनाथ टैगोर ब्रह्म समाज के नेता बने।
2. देवेन्द्रनाथ ने तत्त्वबोधिनी सभा, जो प्रगतिशील लोकमत तथा धार्मिक विचारों की अभिव्यक्ति के लिए एक मंच थी, स्थापित कर राममोहन के विचारों को लोकप्रिय बनाने का प्रयास किया।
उपर्युक्त कथनों में से कौन सा/से सही है/हैं?

प्रश्न के विकल्प निम्नलिखित है –

(अ) केवल 2 (ब) केवल 1
(स) 1 और 2 दोनों (द) न तो 1 और न ही 2

हल : इन चारों विकल्पों में से सही उत्तर (स) 1 और 2 दोनों”” हैं |

उत्तर देने का सही तरीका : सभी ऑप्शन

(अ) केवल 2 (ब) केवल 1
(स) 1 और 2 दोनों (द) न तो 1 और न ही 2

को ध्यान से पढ़कर सही उत्तर “(स) 1 और 2 दोनों” पर उत्तर दे |

Leave a Reply