कृत्रिम प्रज्ञान की परिभाषा क्या है कृत्रिम प्रज्ञान किसे कहते हैं | artificial intelligence definition in hindi ?

प्रश्न : कृत्रिम प्रज्ञान को परिभाषित कीजिये ?

उत्तर : कृत्रिम प्रज्ञान (artificial intelligence) की परिभाषा निम्नलिखित है –

अभिकलन विज्ञान की वह प्रशाखा, जिसमें अभिकलन-आधारित तकनीक का उपयोग ‘संज्ञानात्मक प्रक्रिया‘ (बवहदपजपअम चतवबमेे) के बोधन तथा अनुरूपण हेतु किया जाता है। आजकल कृत्रिम प्रज्ञान को थ्पजिी ळमदमतंजपवद ब्वउचनजपदह का केंद्रीय पक्ष माना जाता है । कृत्रिम प्रज्ञान को ‘संज्ञानात्मक विज्ञान‘ (बवहदपजपअम ेबपमदबम) के अंतर्गत भी माना जाता है । संज्ञानात्मक विज्ञान में कृत्रिम प्रज्ञान के अतिरिक्त मनोविज्ञान, भाषाविज्ञान, तर्कविज्ञान तथा दर्शन जैसे विषय आते हैं।
सामान्यतः कृत्रिम प्रज्ञान-शोधों का उद्देश्य ऐसे ज्ञान-आधारित कंप्यूटर प्रोग्राम तैयार करना है जो ‘अन्योन्य क्रियाविधि‘(प्दजमतंबजपअम उमजीवक) के द्वारा ज्ञानार्जन कर सकें तथा कंप्यूटर में अधिगम्यता (समंतदंइपसपजल) पैदा कर सकें । इस तरह का प्रोगाम स्ववर्धी ज्ञान-आधारित तंत्र (ेमस िंनहउमदजपदह ज्ञ-ठ ैलेजमउ) कहलाता है। प्रज्ञान वैज्ञानिकों का मानना है कि यह तंत्र मानव-व्यवहार की जटिलता का अनुकरण कर सकेंगे। बृहत् उद्देश्य के रूप में प्रज्ञान का उद्देश्य ‘सूचना-संसाधन सिद्धांत‘ तैयार करना है। परंतु कृत्रिम प्रज्ञान का अंतिम उद्देश्य मानव-व्यवहार का द्विगुणन करना है। कोई कंप्यूटर प्रोग्राम इस उद्देश्य में किस स्तर तक सफल होता है इसका अध्ययन लघुकरण सिद्धांत के अंतर्गत किया जाता है।
कृत्रिम प्रज्ञान के कई शोध-क्षेत्र उभरे हैं – प्रकृत भाषा का बोधन तथा जनन, जटिल अंतः संबंधित तथ्यों के आधार पर निष्कर्ष देना, विभिन्न जटिल स्थितियों में जटिल नियमों के आधार पर सलाह देना, कैमरे से देखना तथा शारीरिक कार्य का संपादन करना।

question : define the term artificial intelligence in hindi ?

answer : ऊपर कृत्रिम प्रज्ञान की अर्थात artificial intelligence in hindi की परिभाषा देखिये –